China और India

आज हम जिस देश के बारे में बात करेंगे या यूँ कहें कि उसके plan का पर्दा फ़ास करेंगे वो है china आज हम तथ्यों व इतिहास में आधार पर चीन का भारत के साथ व अन्य देश के साथ असली मकसद बताएँगे जो वाकई में आपके पैरो तले ज़मीन खिसकने जैसा ही होगा |


1- जिनपिंग के supreme leader का सपना 


चीन ( China ) के राष्ट्रपति या यूँ कहें कि चीन का तानाशाह शी जिनपिंग अपने आपको पूरी दुनिया का supreme leader मन ही मन मानता है पर अभी पूरा विश्व मिलकर कभी भी चीन को हरा सकता है इस लिए धीरे धीरे वो सभी देशों को अपना गुलाम बनाने कि कोशिश कर रहा है How?  China सभी देशों को loan दे रहा है और गरीब देश इस झांसे में फस चुके है और अब वो china के आर्थिक गुलाम बन गए है जैसे  - Pakistan,  Nepal, Bhutan,African countries, Iran, Russia e.t.c.

कही नहीं कहीं India भी इन देशों में शामिल है क्यूंकि आप खुद ही सोचिये सबसे ज्यादा Chinese सामान कौन खरीदता है - Indians. हालांकि भारत अब चीनी सामान का बहिस्कार कि सोंच रहा है पर ये इतनी आसान बात नहीं क्यूंकि भारत में हर दूसरा सामान china ही बनाता है और हर साल लगभग 4 लाख करोड़ का बड़ा व्यापार china ही करता है



2 - जैविक हथियारो  का प्रयोग 


चीन के महान लेखक माने जाने वाले ने एक पुस्तक लिखी जिसका नाम था " The Art of war " इसके नाम से ही स्पष्ट है कि ये पुस्तक युद्ध कि कला पर आधारित है इस पुस्तक में ये लिखा है कि सभी तरीके युद्ध में अपनाना चाहिए चीन को चाहे वो परमाणु हथियार व जैविक या कोरोना virus क्यों न हो 


उस पुस्तक कि सबसे बड़ी बात ये है कि उसमे ये साफ़ लिखा है कि चीन को विस्तार वाद अपनाना चाहिए और जब वो कमजोर हो तब उसे अपने आप को मजबूत दिखना चाहिए | 

ये पुस्तक चीन कि सबसे लोकप्रिय पुस्तक मानी जाती है और इसका अनुसरण xi jinping करते है ऐसा प्रतीत हो रहा है


3 - भारत पर कब्ज़ा 


जी हा माना कि ये बात सुनकर आप इसे कहेंगे अरे यार अतिशियोक्ति मत बोलो पर आपको बता दे Prodates कभी ऐसे बात को बिना Fact check के नहीं बोलता आईये जानते है पूरी बात 

ये बात शुरू होती है सन 1962 में जब चीन को लगा कि भारत कि जमीन पर कब्ज़ा उसे superpower से एक कदम और पास ले जायेगा और उसने भी वही किया chinese army को लगा कि लद्दाख से शुरुआत करते है और बदकिस्मती भारत कि जो वो कामयाब हुए और अक्साई चीन ले गए और अभी पैंगोंग झील सबसे ताज़ा उदाहरण है इस topic का आपको बुरा जरूर लगेगा पर आपके लिए एक जरूरी बात बता दे कि चीन को भारत दूसरा मौका दे रहा बातचीत जिसका असर आपको जरूर दिखेगा 


भारत और चीन 5 वीं दौर कि बातचीत में लगे है और इसी वक्त china अपने हथियार वहां पर एकत्र करने में जुटा है | जो भारत कि तरफ से अच्छा संकेत तो नहीं होगा |



4 - America  से सीधे भिड़ना 

एक ऐसा देश जिसको हर कोई superpower बोलता है और मानता है |

पर चीन के लिए ये कहना और मानना उसकी शान के खिलाफ है दरअसल अगर हर बड़े क्षेत्र ने कोई ऐसा देश है जो America   को टक्कर दे सकता है तो वो china है 


अब ऐसे में सब बोलेंगे नहीं Russia केवल करसकता है ऐसा तो आपकी जानकारी के लिए मै बता दू कि Russia economic way पर और अलग अलग क्षेत्र में बहुत पीछे है चीन से केवल डिफेंस लेवल को छोड़ कर 


आज America कि हर बड़ी कंपनी China कि हर बड़ी कंपनी के बराबर ही है जैसे 

Amazon  = Alibaba 

Rocstar games  = Tencent 

Whatsapp = We chat 

ऐसे बहुत से examples है आप खुद देखिये और सायद चीन को अमेरिका से काम आंकना भी बेवकूफी ही होगी इसका अंदाज़ा इससे लगा लो कि चीनी कंपनी tik tok american president Donald Trump को उनके ही घर में कानूनी धमकी दे रही है अब आप समझ चुके होंगे


5 - Space का बादशाह बनना 


Space एक ऐसे जगह जहाँ चीन एक कच्चा खिलाड़ी है और इतना कच्चा कि भारत भी बहुत आगे है चीन से हाल ही में china ने Mars में पहुँचने की कोशिश की थी पर आजतक ISRO ( Indian Space Research Organisation ) ने एक रिकॉर्ड बनाया की पहली कोशिश में ही Mars मंगल ग्रह पर पहुचगया India जो एक world record है लेकिन हाल ही में China Space army या space force बनाने पर जोर दे रहा है यानि space में बैठकर किसी भी देश की बर्बादी का countdown कहना ज्यादा perfect होगा |

 पर ये सपना अभी पूरा होना मुश्किल है क्यूंकि chinese scientist इतने काबिल नहीं की एक झटके में space आर्मी बना ले पर अनुमान तो है की china ऐसा करलेगा 2050 तक |


आज हमने जाना की दुनिया के लिए china आने वाले समय का villain होगा इन 5 कारणों से हमें सब्सक्राइब करें और post को  share जरूर करें